• Breaking News

    .

    .

    Friday, 10 November 2017

    सोनपुर मेला: गधे को एसपी और डीएम का नेम प्लेट पहनाकर थियेटर वालों का प्रदर्शन

    बिहार में सारण जिले के प्रसिद्ध सोनपुर मेला के बारे में कहा जाता था कि इस मेले में सुई से लेकर हाथी तक बिकता है। गंडक नदी के किनारे लगनेवाले सोनपुर के मेले में थियेटर और नाच आकर्षण का केंद्र रहा है। इन थियेटर में लड़कियां डांसर होती है जिसे देखने लोग दूर-दूर से आते हैं।
    सोनपुर मेला शुरू होने के एक हफ्ता बीत जाने के बाद भी सारण के जिला मजिस्ट्रेट ने थियेटर मालिकों को प्रोग्राम चलाने का लाइसेंस नहीं दिया था। डीएम के विरोध में मंगलवार से थियेटर मालिकों और कलाकारों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया था। लेकिन विरोध ऐसा था जिसने डीएम और एसपी को शर्मसार कर दिया जिसके बाद गुरुवार शाम को लाइसेंस दे दिया गया। 

    थियेटर मालिकों ने विरोध प्रदर्शन में दो गधों के गर्दन में डीएम और एसपी का नेम प्लेट टांग दिया और दोनों गधे को मेला में घुमाया। डीएम और एसपी का नेमप्लेट लटकाए आगे-आगे गधा चल रहा था और पीछे-पीछे लोग।

    फिर से गुलजार हुए सोनपुर मेला के थियेटर

    सोनपुर मेले में थियेटर

    पुलिस ने हंगामा करने के आरोप में दो थियेटर मालिक और कई कलाकारों को बुधवार को गिरफ्तार किया था। इन गिरफ्तारियों का स्थानीय लोगों ने पुरजोर विरोध किया। सोनपुर मेला के दुकानदारों ने इन गिरफ्तारियों के विरोध में गुरुवार को अपनी दुकानें बंद रखी थी। जिससे प्रशासन पर दबाव बना और इसके बाद थियेटर वालों को लाइसेंस दिया गया। 

    सोनपुर मेला में अब हाथी नहीं बिकते और चिड़िया बाजार पर जिला प्रशासन ने काफी पहले ही रोक लगा दी थी। थियेटर बंद होने से मेला में लोगों की आवाजाही काफी घट गई थी। लोगों की घटती संख्या से दुकानदार तनाव में थे क्योंकि इससे उनकी बिक्री पर सीधा असर पड़ा था।

    दुकानदारों ने बहुत ज्यादा किराया चुकार मेला क्षेत्र में दुकान के लिए जगह ली थी। सोनपुर मेले का सबसे प्रमुख आकर्षण रहे इन थियेटर के चालू होने के बाद मेले में एक बार फिर रौनक बढ़ने की उम्मीद जगी है। 

    No comments:

    Post a Comment

    Fashion

    Beauty

    Travel