• Breaking News

    .

    .

    Thursday, 9 November 2017

    'वो मुझे बहुत मारते थे और लोहे की चेन से बांधकर रखते थे'

    तेलंगाना के जगतियाल में एक लड़की को बंधक बनाने की मामला सामने आया है। लड़की को बंधक किसी और ने नहीं बल्कि उसके अपने भाई और भाभियों ने ही बनाया था। गुरुवार को पुलिस ने बताया कि लड़की का नाम चितयाला गीता है जिसकी उम्र 22 साल है। गीता के परिवार का दावा है कि उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं और वो कहीं भाग ना जाए इसलिए उन्होंने उसे बंधक बना रखा है।
    पढ़ें क्या है पूरा मामला: 
    गीता को उसके भाई-भाभी ने घर में बंधक बना रखा था। पड़ोसियों ने जब गीता को इस हाल में देखा तो उन्हें यकीन नहीं हुआ। गीता के हाथ लोहे की चेन से बंधे हुए थे। जब पड़ोसी गीता से इसकी वजह जानने पहुंचे तो उसने बताया कि उसके भाई-भाई उस पर बहुत अत्याचार करते हैं। उससे घर के सारे काम करवाते हैं। अगर वो काम ना करे तो उसके साथ मारपीट करते हैं।
    गीता ने बताया कि जब उसने इन सबसे परेशान होकर भागने की कोशिश की तो उन्होंने उसे मारा और उसके पूरे शरीर को लोहे की चेन से बांध दिया। गीता ने पड़ोसियों को बताया कि कुछ साल पहले ही उसके पिता का देहान्त हो गया था। उसके बाद से ही वो अपने भाई चितयाला नारायण, रमेश, श्रीनिवासन और भाभी मानसा, लता और राधा के साथ रह रही थी। गीता ने ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद कुछ वक्त तक स्कूल में बतौर टीचर नौकरी भी की थी लेकिन कुछ साल बाद ही परिवार वालों ने उसे मारना पीटना शुरू कर दिया। उसकी भाभियां उसे घर से सारा काम करवाती थी अगर वो नहीं करती थी तो वो उसके साथ मारपीट करती थीं।
    गीता की पूरी बात सुनकर पड़ोसी उसे पुलिस स्टेशन ले गए। जहां पुलिस ने उसके भाईयों को बुलाया और पूछताछ की। पूछताछ के दौरान गीता के भाई ने बताया कि गीता जब 11 साल की थी तभी से उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। वो उसके इलाज पर काफी पैसे भी खर्च कर चुके हैं। वो लोगों को कोई नुकसान ना पहुंचाए इसलिए उन लोगों ने गीता को चेन से बांधकर रखा था। पुलिस का कहना है कि अगर ये बात सही साबित हो गई कि वो मानसिक रूप से ठीक है लेकिन उसके घरवाले उसे टॉर्चर करते हैं तो लड़की को हैदराबाद के चाइल्ड वेलफेयर में शिफ्ट किया जाएगा जहां वो ठीक से रह सकेगी। 

    No comments:

    Post a Comment

    Fashion

    Beauty

    Travel