• Breaking News

    .

    .

    Sunday, 15 October 2017

    रेप के आरोप में गिरफ्तार जैन मुनि ने पीड़िता पर उठाए सवाल, बताया असली सच

    रेप के आरोप में गिरफ्तार आचार्य शांतिसागर महाराज आखिरकार सामने आए और बयान देकर मामले का उलझा दिया। जैन मुनि का कहना है कि उन्हें साजिश के तहत फंसाया गया है।
    जैन मुनि आचार्य शांतिसागर महाराज को सूरत में एक युवती से दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आरोपी जैन मुनि को शनिवार देर रात गिरफ्तार किया गया। लेकिन इस दौरान जैन मुनि ने खुद को फंसाए जाने की बात कहकर इस मामले की गुत्थी को और उलझा दिया है।

    शांतिसागर महाराज का कहना है कि लड़की को पैसे देकर उनके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई गई। ये एक साजिश का हिस्सा है। उन्हें फंसाया जा रहा है। फिलहाल इसकी जांच शुरू हो गई है।

    'आशीर्वाद देने के बहाने किया रेप'

    गौरतलब है कि 19 साल की एक छात्रा ने जैन मुनि पर आरोप लगाया है कि आशीर्वाद देने के बहाने उससे रेप किया गया। सूरत पुलिस ने आचार्य शांतिसागर महाराज को रेप के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। शिकायतकर्ता के माता-पिता आचार्य के भक्त थे और छात्रा आचार्य से आशीर्वाद लेने के लिए गई थी। 

    पीड़िता ने शिकायत में कहा है कि एक अक्टूबर को वो नानपुरा के महावीर दिगम्बर जैन मंदिर में आशीर्वाद लेने के लिए गई थी। इसी दौरान वहां मौजूद आचार्य शांतिसागर महाराज ने कहा कि मंत्र का जाप करना होगा। इसके लिए उसे रातभर यहीं ठहरना पड़ेगा। इस पर पीड़िता तैयार हो गई।

    आरोप है कि आचार्य शांतिसागर महाराज ने उसे मंदिर के पास एक कमरे में रोक लिया और रातभर आचार्य ने उसके साथ दुष्कर्म किया। पुलिस ने पीड़िता को शिकायत के बाद मेडिकल चेकअप के लिए अस्पताल भेजा। 

    No comments:

    Post a Comment

    Fashion

    Beauty

    Travel